आरक्षण नियमों में अनदेखी का आरोप


प्रयागराज। प्रतियोगी छात्र संघर्ष समिति ने सहायक अभियोजन अधिकारी (एपीओ) भर्ती 2022 में आरक्षण नियमों की अनदेखी के आरोप लगाए हैं।

समिति के अध्यक्ष अवनीश पांडेय ने आरटीआई के माध्यम से कार्मिक मंत्रालय से सूचना मांगी थी कि 2018, 2019, 2020, 2021 और 2022 को मिलाकर एपीओ के कुल कितने पदों पर अधियाचन प्राप्त हुआ है और किस वर्ग के कितने-कितने पद हैं। जवाब के अनुसार 2018 से 2022 तक के सम्मिलित एपीओ के 44 पदों में अनारक्षित व अनुसूचित जाति वर्ग के आठ-आठ पद हैं। अनुसूचित जनजाति के लिए तीन, ईडब्ल्यूएस के चार पद वहीं अन्य पिछड़ा वर्ग के 21 पद हैं। संघर्ष समिति के अध्यक्ष अवनीश पांडेय का कहना है कि यह आरक्षण नियमों का उल्लंघन है। समिति के मीडिया प्रभारी प्रशान्त पांडेय ने आरोप लगाया कि इस प्रकार की तानाशाही बर्दाश्त नहीं करेंगे।

Similar Posts