छात्र की मौत, शिक्षक पर पिटाई का आरोप, ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज

श्रावस्ती:- सिरसिया के बनकटवा गांव निवासी छात्र की इलाज के दौरान संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। परिवार के लोगों ने शिक्षक की पिटाई से बच्चे की मौत होने का आरोप लगाया है। ग्रामीणों के साथ सड़क पर उतरकर परिवार के सदस्यों ने प्रदर्शन किया। पुलिस ने गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया है।

बनकटवा निवासी बृजेश कुमार की बुधवार रात को जिला अस्पताल बहराइच में इलाज के दौरान मौत हो गई। छात्र की मौत के बाद गुरुवार को शिक्षक पर पिटाई का आरोप लगाते हुए परिवार के लोग ग्रामीणों के साथ स्कूल पहुंच गए। स्कूल के सामने सड़क जामकर हंगामा शुरू कर दिया। सिरसिया थानाध्यक्ष पंकज कुमार टीम के साथ पहुंचे। कार्रवाई का आश्वासन दिया तब जाकर मामला शांत हुआ, लेकिन परिवार के लोगों ने शव का अंतिम संस्कार करने से इन्कार कर दिया। डीएम नेहा प्रकाश, एसपी अरविंद कुमार मौर्य, एएसपी केसी गोस्वामी व सीओ भिनगा अतुल कुमार चौबे ने भी मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। खबर लिखे जाने तक अधिकारी परिवार के लोगों को समझाने में जुटे थे ।
थानाध्यक्ष ने बताया कि परिवार के लोगों ने तहरीर देकर आरोप लगाया है कि उनका बच्चा चैलाही स्थित पं. ब्रह्मदत्त उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में कक्षा तीन में पढ़ता था। आठ अगस्त को शिक्षक अनुपम पाठक ने उसकी पिटाई की थी। इससे वह बीमार हो गया। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। थानाध्यक्ष ने बताया कि आरोपित शिक्षक बनगाई निवासी अनुपम पाठक के विरुद्ध गैर इरादतन हत्या समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर शुक्रवार को उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है। मामले के आरोपित शिक्षक ने बताया दो बच्चों में झगड़ा हो रहा था। इसे शांत कराने के लिए छात्र को मामूली दंड दिया था। इसके बाद दो दिन छात्र स्कूल पढ़ने भी आया। बुखार होने पर तीसरे दिन से उसने स्कूल आना बंद किया था। पिटाई से मौत का आरोप निराधार है।

Similar Posts