जब पिता दिलाएंगे तो पहन कर आएंगे यूनिफॉर्म, सुनते ही दबंग ने….

राजस्थान के एक स्कूल में दलित छात्र की मौत का मामला अभी ठंडा पड़ा नहीं था कि इस बार यूपी से इसी तरह का केस सामने आया है। चौरी थाना क्षेत्र के उच्च प्राथमिक विद्यालय मानिकपुर में मनबढ़ ने दलित छात्रा को इसलिए पीट दिया क्योंकि वह बिना ड्रेस पहने स्कूल आई थी। आरोपित क खिलाफ संबंधित धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

चौरी थाना क्षेत्र के मानिकपुर गांव निवासी अशोक कुमार की पत्नी धनपत्ति देवी ने तहरीर में कहा है कि उनकी बेटी अंजली उक्त स्कूल में कक्षा आठ में पढ़ती है। सोमवार को वह स्कूल गई थी। उसी दौरान वहां पहुंचे दबंग मनोज कुमार दुबे ने उसे कक्षा में खड़ा कर दिया। आरोपित ने ड्रेस न पहन कर आने का कारण पूछा, जिस पर बेटी ने पिता द्वारा न खरीदने की बात कहते हुए मंगलवार को खरीदने के बाद पहनकर आने की बात कही।
आरोप था कि मनबढ़ ने छात्रा को कक्षा में ही पीटना शुरू कर दिया। इतना ही नहीं, जातिसूचक शब्दों का प्रयोग किया। जानकारी के बाद पहुंचे परिजनों स्कूल में हंगामा किया और मामले से पुलिस को अवगत कराया गया। प्रभारी निरीक्षक चौरी अनिल कुमार ने बताया कि छात्रा की मां की तहरीर पर आरोपित के मनोज कुमार दुबे के खिलाफ दलित उत्पीड़न व मारपीट की धाराओं में केस दर्ज किया गया है। कहा कि छात्रा का मेडिकल कराया गया है। आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया था। मंगलवार शाम को उसे शांति भंग में जमानत मिल चुकी है। न्यायालय बाल कल्याण समिति भी जांच कर रही हैं।
ड्रेस चेक करने का अधिकार नहीं, आज होगी जांच
खंड शिक्षाधिकारी भदोही लालजी ने कहा कि मामला संज्ञान में है। अध्यापकों के अलावा किसी को भी स्कूल में जाकर ड्रेस चेक करने का अधिकार नहीं। आरोपित अक्सर स्कूल में आया करता है। वह प्रधान के घर का भी नहीं है। मंगलवार को स्कूल पहुंच कर प्रकरण की जांच की जाएगी। इस संबंध में हेड मास्टर से फोन पर सोमवार को पूछताछ की गई है। विभागीय स्तर पर कार्रवाई को जांच के बाद बीएसए को अवगत कराया जाएगा।
.

Similar Posts