प्रधानाध्यापक के निलंबित होने के बाद बीईओ ने किसी को नहीं दिया वित्तीय चार्ज

 प्रधानाध्यापक निलंबित होने के बाद बीईओ ने किसी को नहीं दिया वित्तीय चार्ज 
एटा। शिक्षा विभाग की एक के बाद एक किरकिरी होती जा रही है। अभी अलीगंज ब्लॉक क्षेत्र के गांव बनी स्थित प्राथमिक विद्यालय का मामला ठंडा नहीं पड़ा। अब इसी क्षेत्र के गांव फरसौली स्थित विद्यालय में सात माह तक मध्यान भोजन न बनने का मामला सामने आया है। यहां दिसंबर में प्रधानाध्यापक को निलंबित किया गया था। इसके बाद किसी भी शिक्षक को चार्ज नहीं दिया गया और बच्चे भूखे ही रहे।

उच्च प्राथमिक विद्यालय फरसौली में प्रभारी प्रधानाध्यापक उपेंद्र कुमार को 31 दिसंबर 2021 को विभागीय अनियमितताओं के आरोप में निलंबित किया गया था तत्कालीन खंड शिक्षाधिकारी आनंद कुमार ने किसी दूसरे शिक्षक को यह पदभार नहीं दिया। जिसकी वजह से जनवरी से जुलाई 2022 तक विद्यालय में मध्याहन भोजन नहीं बना। इस बात को खंड शिक्षाधिकारी आनंद कुमार द्विवेदी अपने उच्चाधिकारियों से छिपाए रहे और किसी को कानों कान भनक तक नहीं लगने दी। शिक्षक उपेंद्र कुमार ने बताया कि मेरे निलंबन के समय तक विद्यालय में सात माह से मध्याहन भोजन नहीं बना। किसी भी शिक्षक को वित्तीय अधिकारी नहीं दिए गए, जिसकी वजह से एमडीएम नहीं बन सका। जबकि विद्यालय में 77 विद्यार्थी अध्यनरत है।

Similar Posts