फर्जी नियुक्ति पत्र मामले में जेल भेजे गए पांच शिक्षक

लखनऊ, फर्जी नियुक्ति पत्र के सहारे झांसी जिले के राजकीय विद्यालयों में कार्यभार ग्रहण करने वाले सभी पांच अध्यापकों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया। पांचों फर्जी अध्यापकों के विरुद्ध शुक्रवार को एफआईआर दर्ज कराई गई थी।

यह जानकारी अपर शिक्षा निदेशक (राजकीय) केके गुप्ता ने दी। उन्होंने बताया कि कार्यभार ग्रहण करने की आख्या निदेशालय को प्राप्त हुई तो नियुक्ति पत्र जांच में पूर्णत फर्जी पाया गया। इस पर शिक्षा निदेशालय ने जिला विद्यालय निरीक्षक (डीआईओएस) झांसी को फर्जी सहायक अध्यापक के विरुद्ध आवश्यक कानूनी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। डीआईओएस झांसी ने जब प्रधानाध्यापिका को तलब किया तो जानकारी मिली कि उनके विद्यालय में पंचदेव के अलावा दो अन्य सहायक अध्यापकों रणविजय विश्वकर्मा पुत्र लालचन्द्र विश्वकर्मा और नरेन्द्र कुमार मौर्य पुत्र राम आधार मौर्य ने भी उसी तिथि में कार्यभार ग्रहण किया है।
साथ ही यह जानकारी भी मिली कि जिले के राजकीय हाईस्कूल वीरा और राजकीय हाईस्कूल बम्हौरी सुहागी झांसी में भी एक-एक अध्यापिकाएं जुलाई में नियुक्त हुई हैं।

Similar Posts