बेसिक शिक्षा के स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के भत्ते भी अब डीबीटी से

अब बेसिक शिक्षा विभाग में कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय समेत परिषदीय स्कूलों के दिव्यांग छात्राओं को दिया जाने वाला भत्ता और बहु दिव्यांग बच्चों को एस्कार्ट एलाउंस अब डीबीटी के माध्यम से दिया जाएगा। इसकी शुरुआत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चार सितम्बर को करेंगे। केजीबीवी में लगभग 80 हजार छात्राएं हैं जिन्हें 1100 रुपये सालाना भत्ता दिया जाता है। बेसिक शिक्षा विभाग ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं। अभी तक ज्यादतार भत्ते जिला स्तर पर बीएसए के माध्यम से दिए जाते हैं।

कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों में लगभग 80 हजार छात्राएं पढ़ रही हैं। इनमें 54 हजार छात्राओं का आधार सत्यापन हो चुका है। 25 हजार छात्राओं का आधार सत्यापन एक हफ्ते में किया जाना है। महानिदेशक विजय किरन आनंद ने आदेश जारी किया है कि इनका समयबद्ध सत्यापन करते हुए बैंक खाते की आधार सीडिंग करवाई जाए। वहीं दिव्यांग बच्चों का पंजीकरण समर्थ एप पर किया गया है। इन बच्चों का पंजीकरण प्रेरणा पोर्टल पर भी अनिवार्य रूप से होगा। समर्थ व प्रेरणा पोर्टल पर पंजीकृत बच्चों को डीबीटी की धनराशि दी जाएगी। बहु दिव्यांग बच्चों को स्कूल लाने के लिए प्रतिमाह 500 रुपये एस्कार्ट एलाउंस दिया जाता है।

Similar Posts