बेसिक शिक्षा विभाग में राष्ट्रध्वज अपमान के मामले पर कार्रवाई न होने पर उठे सवाल

बेसिक शिक्षा विभाग में त्वरित कार्रवाई भी अपना और पराया देखकर की जा रही है। इसकी एक बानगी देखिए, कंपोजिट मॉडल स्कूल अहमदपुरा में दूध पी रहे कुत्ते का वीडियो वायरल होने पर प्रधानाध्यापक का निलंबन कर दिया गया, जबकि प्राथमिक विद्यालय आबूपुर, लोधा में राष्ट्रीय ध्वज के अपमान में अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई, जिस पर सवाल उठने लगे हैं।स्वतंत्रता दिवस पर प्राथमिक विद्यालय आबूपुर, लोधा में झंडारोहण के बाद तिरंगा का हिस्सा जमीन पर था, लेकिन इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गई, जो राष्ट्र से जुड़ा था। हालांकि, बीएसए ने जांच कराने की बात कही थी। तिरंगे का हिस्सा जमीन पर होने का फोटो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इस प्रकरण में कार्रवाई न होने पर विभाग पर सवाल उठ रहे हैं।

जानकारों का कहना है कि विभाग में अपना और पराया देखकर कर कार्रवाई की जा रही है। अगर ऐसा नहीं होता, तो राष्ट्रध्वज के साथ अपमान होने पर अब तक निलंबन की कार्रवाई हो चुकी होती।

Similar Posts