शिक्षकों ने धरना देकर विरोध दर्ज कराया

माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष एवं नेता शिक्षक दल सुरेश कुमार त्रिपाठी नेतृत्व में गुरुवार को पार्क रोड स्थित शिक्षा निदेशक कार्यालय पर शिक्षकों ने धरना देकर विरोध दर्ज कराया।

लंबित मांगों को लेकर शिक्षकों ने उच्च अधिकारियों के खिलाफ नारेबाजी की। शिक्षकों ने मुख्यमंत्री को सम्बोधित शिक्षा निदेशक डॉ. सरिता तिवारी को ज्ञापन सौपा। शिक्षा निदेशक ने मांगों के निराकरण का आश्वासन दिया। बारिश के बावजूद हजारों की संख्या में शिक्षकों ने धरना स्थल पर अपनी मांगें रखी।
संगठन के प्रदेश मंत्री एवं प्रवक्ता डॉ. आरपी मिश्र ने कहा ज्ञापन में तदर्थ शिक्षकों के विनियमितीकरण, तदर्थ शिक्षकों के रोके गए वेतन का भुगतान, पुरानी पेंशन की बहाली, वित्त विहीन विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों को समान कार्य के लिए समान वेतन समेत 17 सूत्रीय मांगें हैं। इस मौके पर संगठन के अध्यक्ष सुरेश त्रिपाठी ने कहा कि तदर्थ शिक्षकों के विनियमितीकरण एवं वेतन भुगतान जल्द करने की मांग की। धरने शिक्षक महासंघ के संयोजक डॉ. दिनेश चन्द्र शर्मा ने माध्यमिक शिक्षकों की मांगों समर्थन दिया।
इस मौके पर एमएलसी ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने कहा कि शिक्षक समस्याओं के निराकरण के लिए जेल जाना पड़े तो वह जेल जाने के लिए तैयार हैं। प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी कर विरोध जताया। धरने में संगठन के महामंत्री इन्द्रासन सिंह, हेम सिंह पुण्डीर, जगवीर किशोर जैन आदि मौजूद रहे।

Similar Posts