शिक्षकों पर तीसरी क्लास के बच्ची को पीट-पीटकर मारने का आरोप

उत्तर प्रदेश के बहराइच में कक्षा तीसरी में पढ़ने वाले 13 साल के एक बच्चे की स्कूल में पिटाई से मौत का सनसनीखेज मामला सामने आ रहा है। बच्चे के चाचा का आरोप है कि स्कूल में बच्चे की पिटाई की वजह से उसकी मौत हो गई। मामला बहराइच के सिरसिया पुलिस थाना इलाके का है। पुलिस के मुताबिक बच्चा गांव के पास मौजूद स्कूल में पढ़ने गया था जिसकी बुधवार को अस्पताल में मौत हो गई। परिवार वालों का आरोप है कि स्कूल टीचरों ने फीस के चलते उनके बच्चो को बहुत मारा जिससे उसकी मौत हो गई।

मृतक के भाई राजेश विश्वकर्मा के मुताबिक ‘मेरे भाई को स्कूल टीचरों ने 250 रुपये महीने की स्कूल फीस के चलते मारा। मैने अपने भाई की ऑनलाइन स्कूल फीस भर दी थी लेकिन टीचरों को इस बात की जानकारी नहीं थी और उन्हें लगा कि इस बच्चे ने स्कूल फीस नहीं भरी है जिसके चलते उसकी खूब पिटाई की गई। उसका हाथ तोड़ दिया। उसे इंटरनल ब्लीडिंग हो रही थे। मेरे भाई की स्कूल वालों ने पीट-पीटकर जान ले ली।’ श्रावस्ती एसपी अरविंद कुमार मौर्य के मुताबिक बच्चे के परिवार वालों की शिकायत के आधार पर शिकायत दर्ज कर ली गई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है
गौरतलब है कि पिछले हफ्ते 9 साल के एक बच्चे को राजस्थान में एक स्कूल टीचर ने महज इसलिए पीट-पीटकर मार डाला था क्योंकि उसने स्कूल में शिक्षकों के पीने वाले पानी के मटके से पानी पी लिया था। परिवार के सदस्यों ने दावा किया था कि लड़के को इसलिए पीटा गया क्योंकि वह दलित था जबकि शिक्षक उच्च जाति का था।

Similar Posts