शिक्षक के जुनून ने बदल दी बदल दी सरकारी स्कूल की तस्वीर

संतकबीरनगर।
संतकबीरनगर के पौली ब्लाक क्षेत्र के इंग्लिश मीडियम प्राथमिक विद्यालय बछईपुर में एक शिक्षक ने नवाचारों, सामुदायिक सहभागिता व आईसीटी के प्रयोगों से विद्यालय की तस्वीर बदल दी। बेहतर शैक्षिक गतिविधियों के चलते सरकारी विद्यालय में नामांकन के लिए की जाने वाली भाग दौड़ की झंझट पीछे छूट गई। विद्यालय में नामांकन का ग्राफ तेजी से बढ़ता गया। शिक्षक की मेहनत से आसपास संचालित निजी स्कूलों में नामांकन का ग्राफ नीचे गिरता गया।

पौली ब्लाक क्षेत्र के इंग्लिश मीडियम प्राथमिक विद्यालय बछईपुर में तैनात राज्य सरकार से पुरस्कृत शिक्षक विनोद कुमार पांडेय ने ऐसे समय यह नजीर पेश किया जब सरकारी विद्यालयों में छात्र संख्या में लगातार कमी देखी जा रही है। शिक्षक विनोद कुमार पांडेय की मेहनत व जागरूकता से स्कूल में छात्रों की संख्या में लगातार वृद्धि हुई। निजी स्कूलों में छात्र संख्या घट गई। शिक्षक द्वारा लोगों के घर-घर जाकर उन्हें जागरूक करने का काम किया। विद्यालय में अथक परिश्रम कर शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार किया। जिसकी बदौलत स्कूल में छात्रों की संख्या में भारी इजाफा हुआ। वर्तमान में छात्र निजी स्कूलों से निकलकर सरकारी स्कूल में नामांकन करवा रहे हैं। स्कूल में निजी स्कूल जैसी सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं। विद्यालय में नवाचारों के साथ बेहतर शिक्षण व्यवस्था सृजित किया गया। शत प्रतिशत उपस्थिति मिशन, आईसीटी के प्रयोग, शून्य निवेश नवाचार, नियमित अभिभावक बैठकों व संपर्क अभियान चलाने से बच्चों के नामांकन में वृद्धि हुई। विद्यालय में इस समय कुल 228 बच्चों का नामांकन है। विद्यालय में कक्षा कक्षों की संख्या के सापेक्ष नामांकन अधिक होने के कारण नामांकन रोकने की नौबत आ गयी। अनेक निजी विद्यालयों से बच्चे निकल कर सरकारी विद्यालय में दाखिला कराया।
.

Similar Posts