स्कूल में बच्चों को नसीब नहीं हुआ विशेष भोजन

 

आजादी के अमृत महोत्सव पर 11 से 17 अगस्त तक खीर, हलवा, लड्डू, बूंदी व फल देना था 
फर्रुखाबाद / कपिल आजादी के अमृत महोत्सव के तहत परिषदीय विद्यालयों में 11 से 17 अगस्त तक बच्चों को विशेष भोजन देने का शासन का आदेश परवान नहीं चढ़ा।
अधिकांश विद्यालयों में शनिवार को विशेष भोजन में हलवा, खीर, लड्डू, बूंदी और फल बच्चों को नहीं परोसा गया। स्कूल भवनों पर म तो झालर लगाई गई और न ही प्रतियोगिताएं हुई।
एक दिन भी नहीं परोसा गया हलवा व खीर
प्राथमिक स्कूल सूरजपुर में शनिवार को एमडीएम के तहत बच्चों को खाने के लिए दाल-चावल बनाकर दिया गया। 122 बच्चों में 57 आए थे। 11 व 13 को विद्यालय खुला, लेकिन एक दिन भी विशेष भोजन में हलवा व खीर आदि नहीं परोसा गया। प्रधानाध्यापक पंकज पालीवाल ने बताया कि बजट अलग से नहीं मिला है। 
विशेष भोजन दो दिन में एक बार भी नहीं मिला
संविलियन विद्यालय र समसाबाद में शनिवार को पंजीकृत 160 बच्चों में से 60 आए। इनकी सब्जी चावल खाने में दिया गया विशेष भोजन दो दिन में एक बार भी नहीं मिला। शासन के आदेश के बाद भी विद्यालय में अमृत महोत्सव के तहत प्रतियोगिता तक नहीं हुई। प्रधान रमेश चंद्र ने बताया कि विशेष भोजन नहीं बना पाए। 

मैन्यू के तहत नहीं बना भोजन
प्राथमिक विद्यालय गया शमसाबाद में पंजीकृत 102 बच्चों में [30] उपस्थित हुए यहां बच्चों को एमडीएम के मेन्यू के तहत शनिवार को सब्जी-चावल नहीं दिया गया। विशेष भोजन की खानापूरी करने के लिए हलवा बनवा कर बच्चों को दिया गया लेकिन उसमें गुणवत्ता नहीं दिखी। प्रधानाध्यापक माधुरी ने बताया कि जो इंतजाम हुआ वही किया गया।

Similar Posts