MDM मेन्यू की उड़ी धज्जियां, चार माह से नहीं हुआ चावल का आवंटन, अफसरों की लापरवाही का खामियाजा भुगत रहे बच्चे

मेन्यू की उड़ी धज्जियां, चार माह से नहीं हुआ चावल का आवंटन, अफसरों की लापरवाही का खामियाजा भुगत रहे बच्चे
प्रतापगढ़। जिले में कक्षा एक से आठवीं तक के बच्चों को परोसे जाने वाले मिड ई-मिल की पाली से चार माह से खीर तहरी और चावल गायब है। अधिकांश स्कूलों में बच्चों को खाने में सिर्फ रोटियां परोसी जा रही है। स्कूलों के लिए चार माह से चावल का आवंटन ही नहीं किया गया है।
जिले में बेसिक शिक्षा विभाग के प्राइमरी, मिडिल स्कूलों के साथ ही सहायता प्राप्त पूर्व माध्यम विद्यालय सहायता प्राप्त और राजकीय स्कूलों के कक्षा छह से आठ तक के 2,87,425 बच्चों को एमडीएम योजना के तहत दोपहर का भोजन परोसा जा रहा है।

बच्चों की संख्या के अनुपात में बेसिक शिक्षा विभाग गेहूं और चावल की डिमांड खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के पास भेजता है। कोटेदारों के माध्यम से स्कूलों को खाद्यान्न मुहैया कराया जाता है। जिले के स्कूलों में अप्रैल माह के बाद चावल नहीं मुहैया कराया गया है, इससे बच्चों को खीर तहरी, चावल और खिचड़ी नहीं मिल रही है
अगस्त माह में स्कूलों के लिए 17,157.34 क्विंटल चावल का उठान होना था, मगर अधिकारियों की लापरवाही से अब तक कोटेदारों के पास तक चावल नहीं पहुंचा है। मंगलवार को खाद्यान्न का वितरण होना है, लेकिन अफसरों की लापरवाही से इस बार भी स्कूलों को चावल नहीं मिल सकेगा।

Similar Posts