शिक्षक ने कर्मचारी को मारा तमाचा, चार घंटे काम ठप

आगरा आगरा कॉलेज में शिक्षक पर तमाचा मारने के आरोप लगाते हुए कर्मचारियों ने हड़ताल कर विभागों में तालाबंदी कर दी। इससे विभागीय कामकाज ठप रहा। प्रवेश समेत अन्य कार्य के लिए आए छात्र-छात्राओं को लौटना पड़ा। नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए। प्राचार्य ने दोनों पक्षों में समझौता कराते हुए मामला शांत कराया।
विधि संकाय में सफाई कर्मचारी नरेंद्र कुमार का आरोप है कि सुबह की पाली में एक शिक्षक ने उपस्थित शीट मंगवाने के लिए कहा। ओएमआर शीट और उपस्थिति शीट का रंग एक ही होने के कारण साथ में कुछ ओएमआर शीट भी आ गई। इस पर वह उपटने लगे, मैंने कहा कि भूल से आ गई है, वैसे ये काम मेरा नहीं है। इससे वह भड़क गए और थप्पड़ मारते हुए जातिसूचक शब्द बोले। इसकी जानकारी मैंने अपने कर्मचारी साथियों को दी।

आगरा कॉलेज कर्मचारी संघ के अध्यक्ष धर्मवीर सिंह ने कहा कि कर्मचारी को थप्पड़ मारने की जानकारी पर विधि और मुख्य परिसर के सभी कर्मचारी लामबंद हो गए और सुबह 10 बजे से कामकाज बंद करते हुए धरना दिया। समता होने पर दो बजे कामकाजी शुरू हुआ। वहीं आरोप पर शिक्षक ने कहा कि कर्मचारी के आरोप पूरी तरह से गलत हैं, कुछ गलतफहमी हो गई थी। प्राचार्य डॉ. अनुराग शुक्ला ने बताया कि गलत पेपर लाने पर शिक्षक ने कर्मचारी को डांट दिया था। दोनों पक्षों को बैठाकर समझौता करा दिया है।

Similar Posts