स्कूल खुलने के समय गेट बंद मिलने पर शिक्षकों का एक दिन का वेतन रोका

 औरैया जिला विद्यालय निरीक्षक ने मंगलवार को राजकीय स्कूल नसीराबाद का औचक निरीक्षण किया। स्कूल खुलने के समय गेट बंद मिला, जबकि छात्र बाहर प्रधानाचार्य व शिक्षकों का इंतजार करते मिले। मनमाने ढंग से रजिस्टर पर हस्ताक्षर करने वाले प्रधानाचार्य सहित तीन शिक्षकों का एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश दिए।

जिला विद्यालय निरीक्षक चंद्रशेखर मालवीय सुबह आठ बजे नसीराबाद पहुंचे और जहां विद्यालय बंद मिला। इस पर जिला विद्यालय निरीक्षक ने बच्चों के साथ गेट बाहर स्कूल प्रार्थना की। 8:15 पर विद्यालय के दो शिक्षक पहुंचे और गेट खोला।
एक शिक्षक आर्या का 27 सितंबर का अवकाश का प्रार्थना पत्र उपलब्ध मिला। ग्रामीणों ने जिला विद्यालय निरीक्षक को बताया कि प्रधानाचार्य कभी भी विद्यालय नहीं आती है। कुछ शिक्षक हो नियमित आते हैं। उनके आने पर ही छात्रों को प्रवेश मिलता है।
प्रधानाचार्य सरला सिंह 20 से 27 सितंबर तक सहायक अध्यापक प्रियंका 26 से 27 में सितंबर तक सहायक अध्यापक शालिनी चतुर्वेदी 27 सितंबर, सहायक अध्यापक नेहा सिंह 27 क सितंबर को बिना किसी कारण विद्यालय में अनुपस्थित रहीं|
इन सभी ने अवकाशपत्र जिला विद्यालय निरीक्षक को प्रस्तुत नहीं किया इससे पहले चार फरवरी को भी निरीक्षण में एक शिक्षक थीं। जिला विद्यालय निरीक्षक ने सभी शिक्षकों को बिना अनुमति के  अवकाश लेने के दिनों में एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश दिए हैं।

Similar Posts