छात्रा को क्‍लास में बंद कर घर चले गए थे शिक्षक, सभी को किया सस्‍पेंड

बुलंदशहर, गुलावठी ब्लाक के सैगड़ापीर गांव स्थित संविलियन विद्यालय में कक्षा एक की छात्रा को कमरे में बंद कर घर जाने वाले शिक्षकों को बीएसए ने निलंबित कर दिया है। गुरुवार को ड्यूटी पर आने वाले चार शिक्षकों सहित स्‍भी पांच लोगों पर यह कार्रवाई की गई है। इस गंभीर मामले की जांच के लिए तीन खंड शिक्षा अधिकारियों की कमेटी बनाई गई है। 

यह है मामला 
सैगड़ापीर गांव स्थित संविलियन विद्यालय में गुरुवार को कक्षा एक की छात्रा इकरा को स्कूल में बंद करके शिक्षक घर चले गए। बच्ची के घर न पहुंचने पर स्वजन तलाशते हुए स्कूल पहुंचे तो घटना का पता चला। तब स्कूल का कमरा खोला गया और छात्रा को निकाला गया। किसी ने स्कूल के कक्ष पर लटके ताले और खिड़की से झांकती छात्रा का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। 
जिलाधिकारी और सीडीओ ने भी वीडियो का लिया संज्ञान
शिक्षा अधिकारियों का कहना है कि वीडियो वायरल होने के बाद घटना का पता चला तो विभाग में खलबली मच गई। जिलाधिकारी और सीडीओ ने भी वीडियो पर संज्ञान लेते हुए बीएसए को जांच और कार्रवाई के निर्देश दिए। बीएसए बीके शर्मा ने इस प्रकरण में प्रधानाध्यापक, तीन सहायक अध्यापक और एक अनुदेशक को निलंबित कर दिया है। 
निलंबन के बाद किया गया सम्बद्ध 
निलंबन के बाद सहायक अध्यापिका मंजूलता और रेखा रानी को डिबाई के ऊंचागांव बांगर स्थित उच्च प्राथमिक विद्यालय से सम्बद्ध किया गया है। सहायक अध्यापिका सरिता को इसी गांव के प्राथमिक स्कूल से सम्बद्ध किया गया है। प्रधानाध्यापक रेशमपाल सिंह को डिबाई के चिरोरी गांव स्थित उच्च प्राथमिक स्कूल से सम्बद्ध किया गया है, जबकि अनुदेशक हेमलता को बीआरसी डिबाई से सम्बद्ध किया गया है। बताया गया कि इस स्‍कूल में तैनात तीन अन्‍य शिक्षक अवकाश या बीएलओ ड्यूटी थे। इस कारण उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई है।  
तीन सदस्‍यों की टीम करेगी जांच 
बीएसए बीके शर्मा ने बताया कि बीईओ डिबाई हेमलता, बीईओ अनूपशहर नरेंद्र सिंह, बीईओ बुलंदशहर ओमप्रकाश यादव की तीन सदस्यीय टीम प्रकरण की जांच कर रिपोर्ट देगी। 

Similar Posts