छात्रों ने विद्यालय में की तोड़फोड़, काटा हंगामा

पाटन विहार स्थित त्रिवेणी काशी इंटर कालेज में प्रबंधन की ओर से प्रधानाचार्य की जबरन सेवानिवृत्त किए जाने से छात्र आक्रोशित हो गए। परिसर में धरना देने के साथ ही विद्यालय में तोड़फोड़ भी की। मामला बिगड़ता देख विद्यालय पहुंचे प्रबंधक व उनके बेटे ने प्रधानाचार्य को वापस बुलाया तब जाकर छात्र शांत हुए।

त्रिवेणी काशी इंटर कालेज के प्रधानाचार्य गोवर्धन सिंह को प्रबंधन ने एक अक्तूबर को सेवानिवृत्त कर दिया। सेवानिवृत्त करने का प्रबंधन का तरीका बेहद आपत्तिजनक था दिया। जिससे विद्यालय का स्टाफ भी असंतुष्ट था। बात छात्रों तक पहुंची तो शुक्रवार को उनका धैर्य जवाब दे गया। 
जूनियर हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के सैकड़ों छात्रों ने पहले प्रधानाचार्य को ससम्मान वापस लाने की मांग की प्रबंधन के बात न मानने पर छात्रों ने कक्षाओं का बहिष्कार कर सैकड़ों छात्रों ने स्कूल परिसर में धरना देते हुए नारेबाजी शुरू कर दी
कुछ ही देर में छात्र उग्र हो गए और विद्यालय में तोड़फोड़ भी कर दी। मामला बिगड़ता देख विद्यालय पहुंचे प्रबंधक व उनके बेटे ने छात्रों से जब प्रधानाचार्य की ससम्मान वापसी का वायदा किया तब छात्र शांत हुए। उधर प्रधानाचार्य गोवर्धन सिंह ने मामले को तूल न देने की बात कहते हुए प्रत्येक परिवार में गलतफहमी होने और निर्णय बदले जाने की बात कही।

Similar Posts