टीचर से चीटिंग, वीडियो कॉल आई और महिला हो गई निर्वस्त्र; अगले दिन शिक्षक को दिखा अपना अश्लील वीडियो

मुरादाबाद,
निजी स्कूल के टीचर को एक युवती से व्हाट्सएप पर चैट करना महंगा पड़ गया। आरोपी युवती ने वीडियो कॉल कर टीचर की अश्लील वीडियो बना ली। इसके बाद उसके साथी ने खुद को दिल्ली क्राइम ब्रांच का सीओ बताकर टीचर को कॉल कर धमकाया। आरोपी ने वीडियो डिलीट करने के नाम पर रुपयों की मांग की है। पीड़ित ने सिविल लाइंस थाने में आरोपी युवती और उसके साथी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

बिजनौर जनपद के धामपुर निवासी 55 वर्षीय टीचर ने बताया कि वह क्षेत्र के ही एक निजी स्कूल में पढ़ाता है। एक सप्ताह पहले वह मुरादाबाद स्थित अस्पताल में भर्ती अपने रिश्तेदार को देखने के लिए गए थे। देर रात होने के कारण वह अस्पताल में ही रुक गए। 
टीचर ने बताया कि वह अस्पताल में सो रहे थे कि अचानक एक अंजान नंबर से उनके व्हाट्सएप नंबर पर मैसेज आया। उस नंबर की व्हाट्सएप डीपी पर एक युवती का फोटो लगा था। इसके बाद युवती ने व्हाट्सएप पर टीचर से चैटिंग की। आरोपी युवती ने टीचर पर दबाव बनाया कि वह बाथरूम में जाकर उसे वीडियो कॉल करें। टीचर ने ऐसा करने से इनकार कर दिया। इसके बाद युवती ने खुद ही वीडियो कॉल की। 
तब आरोपी युवती ने पहले एक बच्चे की तस्वीर दिखाई। कुछ देर बाद युवती निर्वस्त्र हो गई। इसी दौरान टीचर की भी वीडियो बना ली। टीचर ने परेशान होकर कॉल काट दी। अगले दिन एक नए नंबर से कॉल आई। कॉल करने वाले ने खुद को दिल्ली क्राइम ब्रांच में सीओ बताते हुए कहा कि एक युवती ने शिकायत की है। उसने टीचर से कहा कि युवती ने आप पर आरोप लगाया कि आपने उसकी अश्लील वीडियो बनाई है। इससे टीचर घबरा गए। 
उन्होंने वीडियो डिलीट के लिए गुहार लगाई। तब आरोपी ने टीचर से कहा कि वीडियो डिलीट कराना चाहते हो तो एक नंबर दे रहा हूं। इस नंबर पर बात कर लेना और उसके खाते में 15800 रुपये जमा कर देना। इसके बाद वीडियो डिलीट हो जाएगी। पंद्रह हजार रुपये भी आपके खाते में वापस आ जाएंगे। आठ सौ रुपये वीडियो डिलीट करने का खर्च लेगा। पीड़ित ने शनिवार दोपहर सिविल लाइंस थाने में पहुंचकर शिकायत की। थाना प्रभारी ने बताया कि शिकायती पत्र आया है। साइबर सेल की मदद से आरोपियों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।

Similar Posts