बेसिक स्कूलों में अलग लाइब्रेरी कक्ष बनाने के निर्देश

परिषदीय स्कूलों में पठन-पाठन का माहौल बनाने के लिए लाइब्रेरी के लिए अलग कक्ष होगा। जिन स्कूलों में पर्याप्त कमरे नहीं हैं। वहां रीडिंग कॉर्नर बनाए जाएंगे। महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद ने आदेश जारी करते हुए कहा है कि जहां पुस्तकालय के लिए अलग से कक्ष नहीं हैं, वहां प्रत्येक कक्षा में रीडिंग कॉर्नर बनाया जाए।

उन्होंने कहा कि स्कूलों में लाइब्रेरी को नियमित व क्रियाशील बनाया जाए। बच्चे में पढ़ने की आदत विकसित करने के लिए निर्धारित समय-सारिणी के अनुसार बच्चों को पाठ्यक्रम आधारित पुस्तकों के अतिरिक्त अन्य पुस्तकें पढ़ने का अवसर उपलब्ध कराया जाए। पुस्तकालय के नियमित संचालन में एक मार्गदर्शिका भी जारी की गई है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि सभी बच्चों को बिना किसी भेदभाव (लिंग, जाति, धर्म, दक्षता आदि) के पढ़ने के समान अवसर प्राप्त हो। इसका उद्देश्य है कि बच्चे अपनी इच्छा से निर्धारित पुस्तकालय में या खाली समय में पुस्तकें पढ़ें और पढ़ने के लिए घर भी ले जा सकें।

Similar Posts