बेसिक स्कूलों में बच्चे कम मिलने पर डीएम ने प्रधानाध्यापक को लगाई फटकार, सुखाई तालाब की सफाई के निर्देश

पुखरायां। डायट में निर्माणाधीन भवन और शिवाजी नगर व वार्ड नंबर 12 के परिषदीय विद्यालयों का शुक्रवार को जिलाधिकारी ने औचक निरीक्षण किया। इस दौरान एक विद्यालय में आधे से कम बच्चे मिलने पर उन्होंने प्रधानाध्यापक को फटकार लगाते हुए रिपोर्ट तलब की। वहीं सुखाई तालाब में गंदगी देख ईओ से नाराजगी जताई और सफाई कराने के निर्देश दिए।

डीएम नेहा जैन ने शुक्रवार को ब्लॉक अमरौधा के उच्च प्राथमिक/पूर्व माध्यमिक विद्यालय शिवाजी नगर का औचक निरीक्षण किया। विद्यालय की कक्षाओं में विद्युत कनेक्शन व पंखे की व्यवस्था शीघ्र कराने के निर्देश दिए।
नगर पालिका से कराए जा रहे कायाकल्प कार्यों का निरीक्षण करते हुए गुणवत्ता का ध्यान रखने को कहा। किचन में मसालों को व्यवस्थित रखने के लिए अलमारी तैयार कराने को कहा। प्रधानाध्यापक ने विद्यालय में गणित के शिक्षक और फर्नीचर की कमी बताई।
कंपोजिट ग्रांट की धनराशि प्राप्त नहीं होने से रंगाई पुताई का कार्य नहीं होने की जानकारी दी। यहां भोजन व शिक्षा की गुणवत्ता सही मिली। विद्यालय में कुल पंजीकृत 101 के सापेक्ष 92 बच्चे उपस्थित मिले।
विद्यालय के बाहर नगर पालिका क्षेत्र शास्त्री नगर में गंदगी व जल भराव होने की शिकायत महिलाओं ने की। इस पर शीघ्र इंटरलॉकिंग कार्य कराने की जानकारी दी गई। नगर क्षेत्र में आईं 190 स्ट्रीट लाइटों को लगवाने के स्थानों की सूची उपलब्ध कराने को कहा।
सुखाई अमृत सरोवर को गंदा देख कर नाराजगी जताई और सफाई के लिए निर्देश दिए। इसके बाद जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान का निरीक्षण किया जहां तीन शेड खराब होने की बात पता चली। इस पर इसे दुरुस्त कराने के लिए इस्टीमेट तैयार कर देने के लिए प्राचार्य को निर्देशित किया। उन्होंने नवनिर्मित ऑडिटोरियम को भी देखा।
प्रांगण में ही संचालित प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया। जहां पंजीकृत 220 बच्चों में मात्र 80 उपस्थित मिले। इस पर उन्होंने प्रधानाध्यापक को फटकार लगाते हुए शत प्रतिशत उपस्थिति के निर्देश दिए।
आंगनबाड़ी केंद्र स्थापित करने का प्रस्ताव शासन को भेजने के लिए कहा। शिक्षिकाओं की ओर से निपुण लक्ष्य की जानकारी न देने पर फटकार लगाई। उन्होंने डायट प्राचार्य को विद्यालय को गोद देते हुए शीघ्र मॉडल स्कूल में परिवर्तित करने के निर्देश दिए।
जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी रिद्धी पांडेय से बच्चों की कम संख्या पर रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा। अधिशासी अधिकारी को विद्यालय में गार्डन, झूले आदि की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

primary ka master, primary ka master current news, primarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet

Similar Posts