यूपी बोर्ड मूल्यांकन का 8 करोड़ बकाया

लखनऊ। यूपी बोर्ड की कॉपियों के मूल्यांकन में शिक्षकों का 8 करोड़ से ज्यादा पारिश्रमिक बकाया है। बजट के अभाव में शिक्षकों का भुगतान नहीं हो पाया है। ये भुगतान 2018, 2019, 2020 का है। कई जिले ऐसे हैं, जहां शत-प्रतिशत शिक्षकों का मूल्यांकन नहीं हो पाया है। समय से भुगतान न करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इसमें 2018 का 48,02,704 रुपये का भुगतान नहीं हुआ है। वहीं 2019 का 4,11,53,761 और 2020 का 4,98,22,301 रुपये का भुगतान नहीं हुआ है। इन तीन वर्षों का कुल 8,98,22,301 रुपये बकाया है। यह जानकारी सरकार ने सदन में मानसून सत्र के दौरान दी है और सदन को आश्वस्त् किया कि समय से भुगतान न करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Similar Posts