विद्यालय में गिरा झूला, दो मासूमों की मौत, स्कूल प्रबंधन के खिलाफ केस दर्ज

बहराइच के सिटी मांटेसरी स्कूल में बुधवार को झूला गिरने से उसके नीचे दबकर दो मासूमों की मौत हो गई। एक बच्चे की मौत मौके पर ही हो गई जबकि एक ने देर शाम लखनऊ के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। बच्चे के परिजनों ने स्कूल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

शहर के नौव्वागढ़ी इलाके में निजी तौर पर संचालित सिटी मांटेसरी इंटर कॉलेज में बुधवार को दोपहर के भोजन अवकाश के समय सभी बच्चे परिसर में खेल रहे थे। कक्षा दो में पढ़ने वाले अरशान (8) और प्रतीक (7) परिसर में लगे झूले पर झूल रहे थे। इसी दौरान झूला गिर गया और दोनों मासूम उसके नीचे दब गए। आसपास खेल रहे दूसरे बच्चों व कर्मचारियों ने तत्काल गिरे झूले को उठा कर दोनों बच्चों को निकाला। गंभीर रुप से घायल दोनो बच्चों को इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज बहराइच ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने अरशान को मृत घोषित कर दिया।
प्रतीक को प्राथमिक उपचार के बाद ट्रॉमा सेंटर लखनऊ रेफर कर दिया गया। परिजनों ने बच्चे को लखनऊ में गोमती नगर स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया जहां इलाज के दौरान ही देर शाम उसने भी दम तोड़ दिया। स्कूल में हुए हादसे की जानकारी मृतक छात्रों के परिजनों को स्कूल की तरफ से ही फोन से दी गई। इसके बाद घबराए परिजन अस्पताल पहुंचे। जहां अरमान की मौत की खबर से पिता मोहम्मद उमर गश खाकर गिर पड़े।
मौके पर पहुंचीं सिटी मजिस्ट्रेट ज्योति राय, एएसपी नगर कुंवर ज्ञानंजय सिंह ने प्रारंभिक जांच में पाया कि झूले जमीन में फिक्स नहीं किया गया था। पुलिस ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। दूसरी तरफ हादसे के बाद चेते बीएसए एआर तिवारी ने सभी स्कूलों में संचालित झूलों की सुरक्षा परखने को तकनीकी जांच कराने का निर्देश दिया है।

Similar Posts