सचिव स्तर के 80 आईएएस चाहिए,हैं सिर्फ 50 ,क्या है वजह?

लखनऊ। देश के सबसे बड़े राज्य यूपी में आईएएस अफसरों की कमी होती जा रही है। सुपर टाइम स्केल यानी सचिव स्तर के 80 अफसरों की मौजूदा समय जरूरत है, लेकिन 50 से ही काम चलाया जा रहा है। यही हाल अपर मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव स्तर के अफसरों का भी है।
क्या है वजह यूपी में मौजूदा समय में 512 आईएएस अफसरों का कॉडर है। वर्ष 2020 बैच के 16 आईएएस अफसर यूपी को जल्द मिलने वाले हैं। इसके बाद भी वरिष्ठ पदों के लिए अफसरों की कमी बनी रहेगी। इसकी खास वजह प्रतिनियुक्ति पर अफसरों का जाना बताया जा रहा है।
वरिष्ठ और कनिष्ठ मिलाकर यूपी के मौजूदा समय 40 आईएएस अफसर केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं। कुछ अफसरों ने प्रतिनियुक्ति पर जाने के लिए आवेदन कर रखा है। इसके चलते अपर मुख्य सचिव से लेकर सचिव स्तर के अफसरों को अतिरिक्त प्रभार देकर काम चलाया जा रहा है।
वापस बुलाने पर मंथन नियुक्ति एवं कार्मिक विभाग केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर गए कुछ वरिष्ठ आईएएस अफसरों को वापस बुलाने पर विचार कर रहा है। खासकर अपर मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव स्तर के अफसरों को वापस बुलाया जाएगा। इसकी खास वजह अफसरों की होने वाली सेवानिवृत्ति है। यूपी कॉडर से वर्ष 2022 में कुल 31 अफसर सेवानिवृत्त होंगे। इसमें से 26 सेवानिवृत्त हो चुके हैं और पांच दिसंबर तक हो जाएंगे। वर्ष 2023 में भी कई बड़े अफसर सेवानिवृत्त हो रहे हैं।
ये होंगे इसी साल रिटायर● राधेश्याम मिश्रा, दीप चंद्र, राजन शुक्ला व शालिनी प्रसाद 30 नवंबर
● श्रीकांत मिश्रा 31 दिसंबर
10 अगले साल रिटायर
राजेंद्र कुमार तिवारी, संजीव कुमार मित्तल, सुनील कुमार, आलोक कुमार प्रथम, नवनीत कुमार सहगल, अरविंद कुमार, आराधना शुक्ला, डा. प्रशांत त्रिवेदी, सुरेश चंद्रा और संजय आर भूसरेड्डी सेवानिवित्त होंगे।
● अपर मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव की भी कमी
● बड़ी संख्या में केंद्र में तैनात हैं यूपी के अफसर
● यूपी में मौजूदा वक्त में 512 आईएएस अफसरों का कॉडर

40 अफसर प्रतिनियुक्ति पर
शालिनी प्रसाद, अरुण सिंहल, लीना नंदन, सुनील कुमार, आलोक कुमार प्रथम, एस राधा चौहान, अर्चना अग्रवाल, कामरान रिजवी, निवेदिता शुक्ला वर्मा, लीना जौहरी, अमित कुमार घोष, डा. आशीष कुमार गोयल, भूवनेश कुमार, मृत्युंजय कुमार नारायण, संतोष कुमार यादव, आमोद कुमार, धीरज साहू, नीतीश कुमार, अनीता सी मेश्राम, वी. हेकाली जिमोमी, कामिनी चौहान रतन, रिग्जियन सेम्फील, शीतल वर्मा, आलोक तिवारी, कुमार रविकांत सिंह, बिमल कुमार दुबे, शुभ्रा सक्सेना, अवनीश कुमार सिंह, के बालाजी, प्रभांशु कुमार श्रीवास्तव, विभा चहल व डा. काजल।

Similar Posts