10 हजार रिश्वत मांगने वाला प्रशासनिक अधिकारी निलंबित

लखनऊ। सीएमओ कार्यालय देवरिया में क्षय रोग अनुभाग में कार्यरत प्रशासनिक अधिकारी गिरजेश्वर मणि त्रिपाठी को रिश्वत मांगने के आरोप में बुधवार देर रात निलंबित कर दिया गया। उन्हें अपर निदेशक कार्यालय बस्ती से संबद्ध किया गया है। उसके खिलाफ जांच कमेटी भी बनाई गई है।

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में गिरजेश्वर प्रतिपूर्ति बिल भुगतान के लिए 10 हजार रुपये मांग कर रहा है। वीडियो में वह बता रहा है कि पूरा पैसा उच्चाधिकारियों को भी देना पड़ता है। सभी का हिस्सा है। जब तक पूरा पैसा नहीं मिलेगा तब तक बिल भुगतान नहीं किया जा सकता। वीडियो वायरल होने के बाद उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने
निदेशक प्रशासन डॉ राजा गणपति को जांच करने और तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए थे। सीएमओ देवरिया की रिपोर्ट मिलने के बाद उसे तत्काल निलंबित कर दिया गया।
निदेशक प्रशासन ने बताया कि वीडियो की वास्तविकता जांची जा रही है। यह वीडियो कब का है यह साफ नहीं हो पाया है, लेकिन उसमें प्रशासनिक अधिकारी का चेहरा और आवाज साफ सुनाई पड़ रही है। इस आधार पर उसे निलंबित किया गया है । किन अधिकारियों के इशारे पर वह रुपया मांग रहा है, इसकी भी जांच कराई जाएगी।

Similar Posts