बस्ती की आंचल का मिशन चन्द्रयान-3 में योगदान

 

सोनूपार / सांऊघाट । बस्ती जिले की बेटी आंचल ने मिशन चन्द्रयान-3 की सफलता में अपना योगदान दिया है। शहर से सटे जखनी गांव निवासी राजकुमार यादव की बेटी आंचल यादव इसरो में सीनियर वैज्ञानिक हैं। मिशन चन्द्रयान-3 से जुड़कर उन्होंने इसकी कामयाबी में अहम हिस्सा निभाया। 

बस्ती की बिटिया की इस सफलता से हर कोई गदगद नजर आ रहा है। मूलरूप से जखनी के रहने वाले राजकुमार यादव एयरफोर्स में जॉब करते थे। नौकरी के दौरान वह बंगलुरू में पोस्ट रहे और यहीं से उनकी बेटी आंचल ने अपनी शिक्षा पूरी की। आईआईटी की पढ़ाई करने के बाद आंचल को डॉ. अब्दुल कलाम इंडियन स्पेस टेक्नोलॉजी में स्कालरशिप मिली और पढ़ाई पूरी कर वैज्ञानिक बनीं। 2011 में इसरो से जुड़कर वैज्ञानिक के रूप में देशसेवा शुरू की। उनके परिजनों के अनुसार आंचल की दादी महंती देवी चाहती थीं कि वह वैज्ञानिक बने और कड़ी मेहनत से आंचल ने इसे साकार कर दिखाया।

Similar Posts