दो साल से कम बच्चों को फाइलेरिया की दवा न दें


सिविल में निदेशक ने शुरू किया अभियान ■ 28 फरवरी तक आशा घर-घर खिलाएंगी दवा

लखनऊ, । फाइलेरिया से बचाव के लिए दवा जरूर खिलाएं। दवा सुरक्षित है। यह दवा दो साल से कम आयु के बच्चों, गर्भवती और गंभीर बीमार को छोड़कर सभी को खानी है। यह अपील सिविल अस्पताल में निदेशक डॉ. भानु प्रताप सिंह ने की। शनिवार को फाइलेरिया से बचाव की दवा खिलाकर अभियान शुरू किया। एसीएमओ डॉ. गोपीलाल समेत कर्मचारियों और उपस्थित पुलिसकर्मियों ने दवा खाई। भोजपुरी कवि कृष्णानंद राय ने हिंदी और भोजपुरी में कविताएं सुनाकर लोगों को फाइलेरिया से बचाव का संदेश दिया। 28 फरवरी तक आशा कार्यकर्ता घर-घर जाकर दवा

खिलाएंगी। सीएमओ डॉ. मनोज अग्रवाल ने कहा कि सभी लोग दवा खाएं, ताकि फाइलेरिया का खात्मा किया जा सके। दवा खाने के बाद जिनके शरीर में पहले से फाइलेरिया का संक्रमण है, उनमें मितली, सिरदर्द, चक्कर जैसे लक्षण हो सकते हैं। घबराएं नहीं। जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. रितु श्रीवास्तव ने कहा कि लखनऊ में 54.21 लाख की आबादी को फाइलेरियारोधी दवा खिलाने का लक्ष्य है।
The post दो साल से कम बच्चों को फाइलेरिया की दवा न दें appeared first on Basic Shiksha Khabar | PRIMARY KA MASTER | SHIKSHAMITRA | Basic Shiksha News | Primarykamaster | UPTET .

Similar Posts