कर्मचारी पर शिक्षक के बेटे के अपहरण की साजिश का आरोप, प्रधानाचार्य की तहरीर पर केस दर्ज

जोया कॉलेज की प्रबंध कमेटी द्वारा रखे गए चतुर्थ श्रेणी संविदा कर्मचारी के खिलाफ प्रधानाचार्य ने एफआईआर दर्ज कराई है। उस पर प्रधानाचार्य के निर्देशों को अनसुना करना, मारने की सुपारी देने और एक शिक्षक के बेटे का अपहरण कर फिरौती लेने की योजना बनाने का आरोप है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

ये मामला हिली कोतवाली क्षेत्र के सिख इंटर कॉलेज नारंगपुरपुर का है। प्रधानाचार्य सुरेंद्र सिंह का आरोप है कि संभल के साधन निवासी मलखान यादव को कॉलेज प्रबंध समिति ने 27 नवबर 2021 को संविदा पर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के पद पर रखा था। उनका आरोप है कि मलखान यादव खुद को मैनेजर का आदमी बताते हुए काम करने से इंकार कर देता है। अनुपस्थिति में प्रधानाचार्य को मालीगलौज करता है। उसने प्रधानाचार्य को मारने की सुपारी देने की योजना बना लो। शिक्षक सुदेश कुमार के बेटे को छिपाकर फिरौती लेने की भी योजना बना रहा
है। प्रधानाचार्य को मारकर जेल जाने की धमकी देता है। इतना ही नहीं विद्यालय के अध्यापकों को चाय में जहर देकर मारने की बात कहता है। प्रधानाचार्य ने मामले की मौखिक शिकायत स्कूल प्रबंधक से भी कोई संज्ञान नहीं लिया गया। इसके बाद प्रधानाचार्य ने चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के खिलाफ सुबूत जुटाने शुरू कर दिए । इस बीच चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की एक ऑडियो सामने आई जिसमें वह प्रिंसिपल का इलाज करने की बात करता सुनाई दे रहा।
इस ऑडियो के आधार पर भी प्रबंध समिति ने कोई कार्रवाई नहीं की। प्रधानाचार्य का आरोप है कि नंबर 2008 से हिंदू इंटर कॉलेज अमरोहा में रह एक चतुर श्रेणी कर्मचारी ने गोली मार के प्रधानाचार्य राधे श्याम तपन की हत्या कर दी थी, वह भी चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी से विद्यालय में काम करने के लिए कहते थे। कर्मचारी की कार्यशैली से परेशान प्रधानाचार्य ने मामले की शिकायत की डिडौली कोतवाली पुलिस से की। इंस्पेक्टर पीके चौहान ने बताया कि शिकायतकर्ता चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी हरिओम यादव के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

Similar Posts