शराब के नशे में स्कूल पहुंचे, फिर कपड़े उतारकर कक्षा में लेट गए गुरूजी, वीडियो वायरल

यूपी के फर्रुखाबाद जिले के एक नशेबाज शिक्षक का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस शिक्षक की हरकतों ने शिक्षा जगत पर दाग लगा दिया। दरअसल एक प्रिंसिपल नशे में इतना चूर हो गए कि उनको होश ही नहीं रहा कि वह क्या कर रहे हैं। नशे में होने के बावजूद प्रिंसिपल साहब स्कूल पहुंच गए और यहां स्कूल के अंदर लड़खड़ाते हुए घूमने लगे। बच्चों के सामने ही नशेबाज प्रिंसिपल ने अपने कपड़े उतार दिए और फिर स्कूल की कक्षा में ही लेट गए।

गुरु जी के इस बर्ताव को देखकर स्कूल में मौजूद बच्चे सहम गए। इसकी जानकारी जब ग्रामीणों को तो हुई तो वह मौके पर पहुंचे और वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। खंड शिक्षाधिकारी ने जब वायरल हुए वीडियो की पड़ताल कराई तो इस बात की पुष्टि हुई। उन्होंने बीएसए को रिपोर्ट दी। बीएसए ने इंचार्ज प्रधानाध्यापक अनंतराम को सस्पेंड कर दिया है।
स्पीकर से इस्तीफा देकर भी विजय सिन्हा ने खेल फंसाया, विधानसभा में 2 बजे क्या होगा ?
शिक्षा के मंदिर में गुरु की मर्यादा क्या है राजेपुर ब्लॉक के परमापुर प्राथमिक विद्यालय के इंचार्ज प्रधानाध्यापक अनंतराम को इसका पता नहीं है। अक्सर प्रिंसिपल साहब नशे में होकर स्कूल पहुंच जाते हैं। ग्रामीणों के अनुसार प्रिंसिपल की इस हरकत को देखकर स्कूल जाने वाले कई बार समय से पहले घर आ जाते थे। ग्रामीणों के अनुसार प्रिंसिपल को अक्सर नशे में स्कूल आते-जाते देखा गया है इसकी जानकारी भी अफसरों तक पहुंचाई जा चुकी थी। इसके बाद भी प्रिंसिपल के बर्ताव में कोई सुधार नहीं हो रहा था। वीडियो वायरल होने के बाद प्रिंसिपल पर कार्रवाई हुई तो ग्रामीणों ने राहत की सांस ली।
खंड शिक्षाधिकारी ने बीएसए को बताया कि परमापुर गांव के कुछ लोगों ने वीडियो बनाकर भेजा जिसमें स्पष्ट प्रतीत होता है कि इंचार्ज प्रधानाध्यापक अनंतराम विद्यालय समय में शराब पीकर आए। कुछ ग्रामीणों ने वीडियो बनाकर बयान दिया कि अनंतराम नशे में विद्यालय में घूम रहे हैं। बच्चे डरकर विद्यालय से चले गए। खंड शिक्षाधिकारी ने वीडियो वायरल होने के बार एआरपी फूलचंद्र और मंजूबाला को मौके पर जांच के लिए भेजा जहां पर इस बात की पुष्टि की गई कि अनंतराम की ओर से विद्यालय समय के दौरान शराब पीकर अशोभनीय आचरण किया गया।
अनंतराम को पहले भी विभागीय कार्यों में लापरवाही के मामले में प्रतिकूल प्रविष्टि प्रदान की गयी थी। इसके बाद भी कार्य व्यवहार में कोई परिवर्तन नहीं आया। खंड शिक्षाधिकारी की रिपोर्ट के आधार पर बीएसए ने इंचार्ज प्रधानाध्यापक अनंतराम का निलंबन आदेश जारी कर दिया। बीएसए ने बताया कि खंड शिक्षाधिकारी की रिपोर्ट के आधार पर यह कार्रवाई की गई है। निलंबन अवधि में अनंतराम को प्राथमिक विद्यालय राई में उपस्थिति देने के आदेश दिए गए हैं। खंड शिक्षाधिकारी कायमगंज को जांच दी गई है। उन्होंने बताया कि इंचार्ज प्रधानाध्यापक का मेडिकल नहीं कराया गया है।

Similar Posts