स्वास्थ्य-शिक्षा के कायाकल्प के लिए पीपीपी मॉडल हो रहा तैयार: PM Modi

 पीएम बोले – प्रौद्योगिकी व आधुनिकीकरण के संयोजन से स्वास्थ्य क्षेत्र में प्रगति करेगा देश धार्मिक , सामाजिक संदेश के हर कोने में मिलेंगी कैंसर

फरीदाबाद । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश में स्वास्थ्य व शिक्षा के कायाकल्प के लिए निजी क्षेत्र के साथ साझेदारी करके प्रभावी पीपीपी मॉडल तैयार हो रहा है । सामाजिक संस्थाओं को भी प्रोत्साहन दिया जा रहा है । यह काम निष्ठा व ईमानदारी के साथ मिशन मोड में चल रहा है । प्रौद्योगिको व आधुनिकीकरण से स्वास्थ्य क्षेत्र में देश प्रगति करेगा । पीएम मोदी ने फरीदाबाद में बुधवार को 6000 करोड़ रुपये की लागत से 133 एकड़ क्षेत्र में बने 2600 बेड वाले अमृता अस्पताल का उद्घाटन किया । पीएम ने उम्मीद जताई , यह अस्पताल देश के सभी संस्थानों के लिए भी आदर्श बनेगा।
कोरोनाकाल में काम आई आध्यात्मिक-निजी साझेदारी
दुष्परिणाम रोकने में अहम भूमिका
मोदी ने कहा , समस्या से जूझने के लिए समाज के हर वर्ग , संस्था , क्षेत्र का प्रयास जरूरी होता है । कोरोनाकाल में आध्यात्मिक निजी साझेदारी ने टीके के खिलाफ दुष्प्रचार व अफवाहें रोकने में अहम भूमिका निभाई । धर्मगुरु , अध्यात्मिक गुरु साथ आए , उन्होंने अपील की , उसका तुरंत असर हुआ।
धार्मिक और सामाजिक संस्थान निभा रहे जिम्मेदारी:
धार्मिक व धार्मिक सामाजिक संस्था सामाजिक संस्थानों की ओर से सेहत से जुड़ी जिम्मेदारियों के निर्वहन की व्यवस्था एक तरह से पुराने समय का पीपीपी मॉडल है । लेकिन मैं इसे परस्पर प्रयास के तौर पर देखता हूं राज्य अपने स्तर से व्यवस्थाएं खड़ी करते थे , बड़े – बड़े विश्वविद्यालयों के निर्माण में भूमिका निभाते थे । लेकिन धार्मिक संस्थान भी इसका महत्वपूर्ण केंद्र होते थे । नरेंद्र मोदी , प्रधानमंत्री

Similar Posts